Thursday, December 1, 2022

सिद्धू के चुनावी सलाहकार के बिगड़े बोल, कहा- हिंदुओं का कोई जलसा नहीं होने दूंगा, अगर हुआ तो घर में घुसके मारुंगा

- Advertisement -

पंजाब में विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ती नज़र आ रही हैं। हाल ही में प्रवर्तन निदेशालय द्वारा की गई कार्रवाई में सूबे के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के भतीजे भूपिंदर सिंह हनी के घर करोंड़ो की नगदी और सोना बरामद किया गया था। जिसके बाद विपक्षी दलों ने कांग्रेस पर सीएम चन्नी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

- Advertisement -

आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने तो सीएम चन्नी को बेईमान आदमी तक कह डाला। उन्होंने एक रैली को संबोधित करते हुए राज्य के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी पर निशाना साधते हुए कहा कि सीएम चन्नी बेईमान आदमी हैं।

बता दें, अभी यह मामला ठंडा भी नहीं हो पाया था कि पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के चुनावी सलाहकार ने कुछ ऐसा बयान दे दिया है जिसने माहौल खराब करने का काम किया है। सिद्धू के चुनावी सलाहकार मुहम्मद मुस्तफा ने हिंदुओं को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि वे हिंदुओं का कोई जलसा नहीं होने देंगे।

बीजेपी प्रवक्ता ने साझा किया वीडियो

- Advertisement -

मालूम हो, भाजापा की राष्ट्रीय प्रवक्ता शाजिया इल्मी ने शनिवार को एक वीडियो पोस्ट किया था। इस वीडियो में पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार मुहम्मद मुस्तफा एक मजहबी जलसे को संबोधित करते नज़र आ रहे हैं। इस वीडियो में उन्हें कहते सुना जा सकता है कि ‘मैं अल्लाह की कसम खाकर कहता हूं, कि इनका कोई जलसा नहीं होने दूंगा। मैं कौमी फौजी हूं। मैं आरएसएस का एजेंट नहीं हूं, जो डरके घर में घुस जाऊंगा। अगर दोबारा इन्होंने कोई हरकत की तो खुदा की कसम घर में घुसकर मारूंगा। आज मैं सिर्फ वार्निंग दे रहा हूं। मैं वोटों के लिए नहीं लड़ रहा। मैं कौम के लिए लड़ रहा हूं। मैं जिला पुलिस और प्रशासन को बताना चाहता हूं कि अगर दोबारा ऐसी हरकत की, मेरे जलसे के बराबर में हिंदुओं को इजाजत दी तो ऐसे हालात पैदा करूंगा कि संभालने मुश्किल हो जाएंगे।’

सांप्रादायिक सौहार्द बिगाड़ना चाहते हैं मुस्तफा

इस वीडियो को साझा करते हुए शाजिया इल्मी ने लिखा कि ‘यह हेट स्पीच है, जो मुस्तफा  ने मलेरकोटला के मुस्लिम बाहुल्य वाले इलाके में दी है। मुस्तफा दंगे भड़काकर सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने चुनाव आयोग से मांग की कि इसका संज्ञान लें और रजिया सुल्ताना को मलेरकोटला में चुनाव लड़ने से रोकें’।

गौरतलब है, मुहम्मद मुस्तफा पंजाब के पूर्व डीजीपी हैं जो कि अब नवजोत सिंह सिद्धू के चुनावी रणनीतिकार बन चुके हैं। वहीं, उनकी पत्नी रजिया सुल्ताना मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं। ऐसे में बीजेपी ने दोनों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

 

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular