Thursday, August 18, 2022

जब जिन्ना का उदाहरण देकर जिन्ना की बेटी दूसरे धर्म मे शादी करने को पिता से भिड़ गयी

- Advertisement -

मुहम्मद अली जिन्ना का क़िस्सा पता है आपको? जिन्ना के एक पारसी दोस्त थे। उनकी एक बेटी थी जिसका नाम ‘रत्ती’ (रत्तनबाई ) था। जिन्ना का उस पारसी दोस्त के घर पर आना जाना था। पारसी दोस्त की लड़की की उम्र काफ़ी कम थी लेकिन जिन्ना के प्रेम या प्रभाव में आ गई।

जिन्ना ने की 16 साल की रत्ती से शादी 

पर उनकी शादी में कई रुकावट थी । दोनो के धर्म अलग अलग थे । जिन्ना के पारसी दोस्त भी इस शादी के लिए कभी तैयार नही होते । दुसरे “रत्ती” की उम्र कम थी । जबकि शादी करने के लिए कम से कम उम्र 16 वर्ष होनी चाहिए थी । मुहम्मद अली जिन्ना अधेड़ हो चुके थे और मुस्लिमो के एक प्रभावशाली नेता के रुप मे पहचान बना चुके थे ।

- Advertisement -

jinnah wife

जैसे ही रत्ती की उम्र 16 वर्ष हुई जिन्ना ने रत्ती को बिना घरवालों की मर्जी से ले जाकर शादी कर ली । रत्ती के परिजन उस वक्त ठगा महसूस कर रहे थे । शादी के लिए जिन्ना ने रत्ती का धर्म परिवर्तन भी करवाया । जिन्ना उस वक्त एक चर्चित वकील थे । ये शादी उस वक्त काफी चर्चा का केंद्र बनी । जिन्ना की आलोचना भी खूब हुई

इतिहास ने फिर खुद को दोहराया 

वक़्त बदला। इतिहास एक बार फिर वही कहानी दुहराने के लिये तैयार था। जिन्ना और रत्ती की बेटी थी ” दीना ” । ‘दीना’ बड़ी हो रही थी। जवानी की दहलीज पर कदम रखती दीना को भी एक पारसी युवक से प्यार हुआ। जिन्ना किसी क़ीमत पर दीना की शादी गैर मजहबी व्यक्ति से नही करना चाहते थे। पर दीना जिद पर अड़ गयी ।

- Advertisement -

नतीजा बाप-बेटी में भयंकर बहस हुई। और रिश्ता बिगड़ गया। “जिन्ना ने दीना से पूछा कि भारत में लाखों मुसलमान है, क्या यही एक गैर मजहबी शख्स तुम्हारा इंतजार कर रहा है ? तो दीना ने झट से जिन्ना को जवाब दिया था – भारत में लाखों मुस्लिम लड़कियां थीं तो आपने मेरी मां रत्ती से ही शादी क्यों की?” वो भी तो गैर मजहब से थी।

मिसेज वाडिया कहकर बेटी को बुलाते थे जिन्ना 

ख़ैर। दीना नही मानी और अपनी मर्जी से शादी कर ली । लेकिन फिर कभी जिन्ना ने बेटी को माफ़ नहीं किया। बाप बेटी के संबंध कभी सामान्य नही हो पाए। दीना के सामने जब भी जिन्ना आये तो उन्होंने अपनी बेटी को मिसेज़ वाडिया (पति का उपनाम) कह कर बुलाया । जिन्ना की वो इकलौती बेटी थी लेकिन अपनी सम्पत्ति में से एक धेला दीना को नहीं दिया। इतना ही नही , अपने जीते जी दीना को जिन्ना ने पाकिस्तान का वीज़ा नहीं लेने दिया।

दीना ने जिस परिवार के युवक से शादी की वो भी जाने पहचाने लोग थे । बॉम्बे डाइंग का मालिक नुस्ली वाडिया इसी दीना के बेटे थे । और अभी के मालिक नेस वाडिया दीना के पोते है। यानी जिन्ना के परनाती हैं। ख़ुद से छोटी और दोस्त की बेटी पारसी किशोरी रत्ती को भगा ले जाने वाले जिन्ना ने, कभी भी बेटी के योग्य पारसी युवक से शादी को स्वीकार नहीं किया।

Muhammad Ali Jinnah Daughter , Dina Jinnah , Bombay Dyeing

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular