Wednesday, May 18, 2022

पंजाब चुनाव से पहले ED ने दी दस्तक, सीएम चन्नी के भतीजे के ठिकानों पर पड़ा छापा

- Advertisement -

पांच राज्यों में चुनाव को लेकर हाल ही में चुनाव आयोग ने तारीखों का ऐलान किया था। जिसपर पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी और अन्य विपक्षी दलों ने पंजाब विधानसभा चुनाव की तारीख को बदलने की मांग की थी। इसके पीछे रविदास जयंती का हवाला दिया गया था।

20 फरवरी को होगा मतदान

- Advertisement -

इस मामले में सीएम चन्नी ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर चुनाव की तारीख को 6 दिनों तक टालने की मांग की थी। उनका दावा था कि 16 फरवरी के दिन मनाई जाने वाली रविदास जयंती के दिन आधे से ज्यादा जनता यूपी के बनारस में होगी। इसके कारण बहुत से लोग वोट नहीं दे सकेंगे।

सीएम चन्नी द्वारा उठाए गए इस मुद्दे को सभी पार्टियों का समर्थन मिला जिसके बाद चुनाव आयोग ने सोमवार को पंजाब विधानसभा चुनावों की तारीख बदलने का ऐलान किया। नए फैसले के मुताबिक, अब पंजाब में 117 सीटों पर 20 फरवरी को वोटिंग होगी।

भूपिंदर सिंह हनी के घर पड़ा छापा

- Advertisement -

वहीं, इससे पहले राज्य में प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने दस्तक दे दी है। मंगलवार को दिल्ली से आई ईडी की टीम ने राज्य के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के भतीजे भूपिंदर सिंह हनी के ठिकानों पर छापेमारी की है।

बताया जा रहा है कि भूपिंदर सिंह हनी का नाम बड़े अवैध बालू माफियाओं की फेहरिस्त में शुमार है। जानकारी के मुताबिक, ईडी ने यह कार्यवाही अवैध बालू खनन के खिलाफ की है। फिलहाल ईडी की टीम मोहाली स्थित होमलैंड सोसाइटी में बने खनन माफिया भूपिंदर के घर पर मौजूद है। बताया जा रहा है कि माफिया के 10 ठिकानों पर ईडी ने रेड मारी है।

अपने करीबियों के ठिकानों पर चल रही इस कार्यवाही को लेकर सीएम चन्नी ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा किय यह कार्यवाही पूरी तरह से राजनीति से प्रेरित है। इस सब से कांग्रेस और नेताओं की छवि को धूमिल करने की कोशिश की जा रही है।

मालूम हो, पंजाब में अवध खनन और बालू माफियाओं का मुद्दा शुरु से ही हावी रहा है। राज्य के सभी राजनीतिक दलों ने इस मुद्दे पर जमकर भाषणबाजी की है। इस बार के विधानसभा चुनावों में यह मसला काफी तूल पकड़ रहा है। पार्टियां दावा कर रही हैं कि उनकी सरकार आने पर खनन माफियाओं पर नकेल कसी जाएगी।

कौन होगा पंजाब का सीएम?

गौरतलब है, इस बार कांग्रेस पंजाब में बिना सीएम के चेहरे के चुनाव लड़ने जा रही है। हालांकि, सोमवार को कांग्रेस के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से जारी किये वीडियो ने राजनीति के गलियारों में सरगर्मी बढ़ा दी है। दरअसल, कांग्रेस ने मशहूर अभिनेता और समाजसेवी सोनू सूद का एक वीडियो जारी कर चरणजीत सिंह चन्नी को राज्य का अगला मुख्यमंत्री बनाने का संकेत दिया है। इस वीडियो में एक्टर को कह रहे हैं कि असली मुख्यमंत्री वह है जिसे जबरदस्ती कुर्सी पर लाया जाए और उसे बताना न पड़े कि मैं सीएम पद के लिए डिजर्व करता हूं। सीएम ऐसा हो जो बैकबेंचर हो और उसे पीछे से उठाकर कहा जाए की तुम डिजर्व करते हो और तुम बनोगे। जब वह सीएम बनेगा तो देश बदल सकता है। बाद में वीडियो में पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की तस्वीरें दिखाई देती हैं।

सिद्धू की प्रतिक्रिया का इंतज़ार

मालूम हो, कांग्रेस की तरफ से जारी किये गए इस वीडियो ने सभी को चौंका कर रख दिया है। एक तरफ कांग्रेस पार्टी नेताओं से बिना सीएम के चुनाव लड़ने का दावा कर रही है तो वहीं इस तरह की वीडियो जारी कर सीएम चन्नी का समर्थन कर रही है। ऐसे में यह देखना बड़ा दिलचस्प होगा कि पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू पर इसका क्या असर पड़ता है। इस मामले पर उनकी प्रतिक्रिया अपेक्षित है।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular