Thursday, July 7, 2022

भारत की बेटी ने किया नाम रोशन, 25 दिनों में 8,000 मीटर की 4 चोटियाँ की फतेह

- Advertisement -

पिछले दिनों ही UPSC की परीक्षा के परिणाम आए। जिसमें शीर्ष 3 में बेटियों ने स्थान हासिल करके मान बढ़ाया। अब भारत की बेटियाँ और भी पावरफुल होतीं जा रहीं हैं और अनगिनत रिकॉर्ड अपने नाम करती जा रही हैं।

हाल ही में भारत की बलजीत कौर ( Baljeet Kaur Mountaineer) ने एक नया रिकॉर्ड अपने नाम किया है। वे पहली भारतीय पर्वतारोही हैं जिन्होंने एक महीने के भीतर 8,000 मीटर की ऊँचाईं वाली 4 अलग-अलग माउंटेन में चढ़ाई की है।

बलजीत कौर

बलजीत ने कैसे कर दिखाया ये कारनामा

- Advertisement -

बलजीत ने दुनिया के चौथे सबसे ऊंचे पर्वत माउंट लोहत्से पर सफलतापूर्वक चढ़ाई की है। इस खबर की पुष्टि पीक प्रमोशन प्राइवेट लिमिटेड के निर्देशक पासंग शेरपा ने की है। उन्होंने बताया कि इस स्प्रिंग सीजन में बलजीत ने लगातार चौथी चढ़ाई करके एक अनमोल रिकॉर्ड अपने नाम किया है। बलजीत और उनके गाइड मिंगपा शेरपा ने  28 अप्रैल को अन्नपूर्णा और 12 मई को कंचनजंगा पर चढ़ाई पूरी की थी। 21 मई को दोनों माउंट एवरेस्ट तक भी पहुँच गए और 25 तक मई तक माउंट ल्होत्से पर चढ़ाई कन्फर्म हो गई।

तिरंगा लहराते हुए बलजीत कौर

हिमांचल की रहने वाली हैं बलजीत

बलजीत कौर का पूरा परिवार हिमांचल के सोनल जिला के कंधाघाट तहसील के पंजरोल गांव में निवास करता है। बलजीत के इस रिकॉर्ड से पूरे गांव में खुशी की लहर है। उनकी मां शांति देवी कहती है कि उनकी बेटी ने जो कर दिखाया यह उनके लिए सबसे ऊंचा काम है। बलजीत तीन भाई-बहनों में से एक हैं।  बलजीत कौर के पिता का नाम अमरीक सिंह है जो हिमांचल सड़क ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन में बस ड्राइवर का काम करते हैं।

बलजीत कौर

बलजीत से दूसरी लड़कियों को मिलेगी प्रेरणा

27 बर्षीय बलजीत अपने इस जीत का श्रेय अपने गाइड्स और परिवार के साथ उस हरेक शख्स को देती हैं जो इस जर्नी में उनके साथ रहे। यह उनके लिए भावुक पल था। बलजीत के इस विजय से दूसरी बेटियों को अपने सपने के पीछे भागने की प्रेरणा मिलेगी। हर भारतीय को बलजीत पर गर्व है। बलजीत के सामने कई कठिनाईयां आईं लेकिन वे सपने के पीछे भागती रहीं। बलजीत कहती हैं कि ये तो सिर्फ शुरुआत है, अभी उन्हें आसमान की ऊंचाइयों पर जाना है।

- Advertisement -

उम्मीद है बलजीत कौर अभी देश के लिये और रिकॉर्ड्स बनाकर भारत की बेटियों को प्रेरणा देगी । अगर आपको बलजीत कौर की कहानी और जज्बा अच्छा लगा तो इस स्टोरी को अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कीजिये ।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular