हुमायूं का मकबरा तोड़कर कब्रिस्तान बनाया जाए ,शिया वक्फ बोर्ड ने लिखा मोदी को पत्र

शिया वक्फ बोर्ड ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को एक पत्र भेजकर मांग की है कि हुमायूँ का मकबरा तोड़कर उससे मिलने वाली लगभग 35 एकड़ जमीन को कब्रिस्तान के लिए दे दिया जाए | साथ ही उन्होंने लैटर में हुमायूँ और मुगलों को लुटेरा बताया है | शिया वक्फ बोर्ड की तरफ से भेजे गये इस लैटर में शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने लिखा है कि मुगलों ने इस देश को हमेशा क्षति पहुचाई और लुटने के उद्देश्य से यहाँ आये |

हुमायूं ना तो कोई इस्लाम धर्म प्रचारक था और ना धर्म गुरु , मुगलों का  यहाँ आने का मकसद सिर्फ लूटपाट करना था | साथ ही लैटर में लिखा है कि इन्होने हिन्दू धर्म के 3000 से अधिक मंदिरों को तोडा और अत्याचार किये | शिया वक्फ बोर्ड चाहता है कि दिल्ली के मुस्लिमो के समक्ष आ रही कब्रिस्तान की दिक्कतों को देखते हुए हुमायूं के मकबरे को तोड़ने में कोई हर्ज नहीं है

 

शिया वक्फ बोर्ड shia waqf board letter modi humayun ka maqbara हुमायूँ का मकबरा

शिया वक्फ बोर्ड shia waqf board letter modi humayun ka maqbara हुमायूँ का मकबरा
शिया वक्फ बोर्ड द्वारा मोदी जी को भेजा गया पत्र

उन्होंने ये भी कहाँ कि मुग़ल इस राष्ट्र के लिए अच्छे बादशाह नहीं थे और न ही उन्होंने यहाँ अच्छे काम किये , बल्कि उन्होंने अपनी ताकत का नाजायज फायदा भारत को लूटने में लगाया

भारत सरकार को इससे कोई आमदनी भी नहीं है बल्कि उलटे लाखो का खर्चा सरकार द्वारा इसके रख रखाव पर किया जा रहा है | उन्होंने ये भी लिखा कि ये पैसा भारत की जनता का है और इसे भारत की जनता के उपर खर्च किया जाना चाहिए ना कि जालिमो और लुटेरो के ऊपर !

सऊदी अरब का उदाहरण देते हुए कहा कि वहां भी कई मकबरों को ध्वस्त किया जा चूका है !

Comments

comments

Leave a Reply