डीयू प्रोफ़ेसर ने किया शर्मसार , खुलेआम लगाए देशविरोधी नारे !

जिन वामपंथियो ने 9 फरवरी 2016 को जेनयू में देश विरोधी नारे लगाकर जेनयू और पूरे देश को बदनाम किया था उन्ही देश विरोधी वामपंथियो ने एक बार फिर दिल्ली विश्विद्यालय में कश्मीर मांगे आजादी ,बस्तर मांगे आजादी के नारे लगाकर डीयू को बदनाम करने की कोशिश की परन्तु दिल्ली विश्विद्यालय के आम छात्रो ने इसका मुहतोड़ जवाब दिया और डीयू से खदेड़ दिया।

जेएनयू में राष्ट्रविरोधी नारे लगने के एक साल बाद फिर से कुछ अलगाववादी संगठनों ने इस बार डीयू के रामजस कॉलेज को अपना निशाना बनाया ! अलगाववादी नारों के साथ उन्होंने प्रदर्शन शुरू किया और सबसे ज्यादा शर्मनाक बात ये रही कि कथित वैचारिक स्वतंत्रता के नाम पर डीयू के कुछ प्रोफेसर्स भी देश विरोधी नारे लगाते नजर आये ! छात्र संगठन Abvp ने कई विडियो जारी किये है जिनमे छात्र और प्रोफेसर अलगाववादी नारे लगाते नजर आ रहे है

बताया जाता है कि इस विडियो में देश विरोधी नारे लगाने वाला ये व्यक्ति हिस्ट्री विभाग का प्रोफेसर है और छात्रो को बरगलाने का काम कर रहा है |

Mukul Manglik, Professor of History Department standing with Crowd when they demanding aazadi

Posted by Hitesh Rangra on 23 फेब्रुवारी 2017

 

यदि इस विडियो में दिखाए जा रहे प्रोफेसर वास्तव में इस तरह की गतिविधियों में शामिल है तो ये वाकई चिंता का विषय है ! और पुलिस के साथ साथ सरकार को भी इस विषय पर ध्यान देने की जरुरत है कि आखिर क्यों हमारे शिक्षण संस्थान ऐसी गतिविधियों का अड्डा बनते जा रहे है ! इन प्रोफेसर्स को सैलरी किस बात की दी जाती है | क्या हमारे संस्थान भविष्य में अलगाववादी और देशद्रोही पैदा करेगे ??

इस घटना के विरोध में abvp संगठन ने प्रदर्शन भी किया और कई जगह इन संगठनों के साथ झड़प भी हुई !

भारी मात्रा में जमा पुलिस बल

देशद्रोही नारों और प्रदर्शन का विरोध करते हुए abvp के सदस्य

 

Comments

comments

The Popular Indian

"The popular Indian" is a mission driven community which draws attention on the face & stories ignored by media.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *