Category: Society & Culture

hindi articles ruchi trivedi रूचि त्रिवेदी हिन्दी आर्टिकल लेख कहानी कवितायेँ

कैद स्त्रियाँ : उनके मजहब में लिखा है इसलिए मानना पड़ता है !

30 Minutes with a Muslim Girl  मैं  आजकल जहाँ मुस्लिम लोगों को देखती हूँ …..इजाजत लेकर बात करने बैठ जाती हूँ ……. शुरूआती कुछ दिन मैं गुस्से में होती थी……..उनपर उनके धर्म पर इलज़ाम...

सर्जिकल स्ट्राइक 0

युध्द कौन लड़ेगा जब सेना ही नही होगी ? -पढ़िए गीताली सैकिया का ये आलेख !

उरी हमले पर सरकार की आगामी कदम को लेकर अनेक कयास लगाए जा रहे .तमाम राजनीतिविद और कुटनीतिविद अपने विचारों से अवगत कराते हुए सरकार के आगामी भूमिका के संभावित सकारात्मक और नकारात्मक पहलुओं...

lekhak club army men dheeraj jha 0

“आना तो 20-25 को मारकर आना !” – एक पत्नी का अपने फौजी पति को ख़त !

  परनाम कईसे हैं आप ? माँ दुर्गा के असिर्बाद से इहाँ सब ठीक है । तनिका दीन से मन बड़ा घबरा रहा था तो सोचे आपको चिट्ठी लीख लें । फोन पर ओतना...

0

वर्दी की सारी कहानियाँ सिर्फ फ़िल्मी नहीं होती , दाव पर लगी होती है जान और प्रतिष्ठा !!

  एक लड़का अनेक वर्ष से एकाधिक राज्यों में मोस्ट वांटेड अपराधी था। राजनैतिक और धार्मिक कारणों के चलते निवर्तमान मुख्यमंत्री को मारने की सुपारी उसी लड़के को दिये जाने की बात फ़ैल गई।...

0

याद रखे एकाग्रता और कल्पनाशीलता का ये फार्मूला, तब बच्चे नहीं करेगे आपको निराश !

पढ़ने के लिए एकाग्रता बहुत बहुत बहुत जरूरी है.मैंने कई पेरेंट्स को देखा है बच्चों को पढ़ने के लिए अपने पास बिठा लेते हैं. उनका ऐसा मानना होता है कि डर से सही उनका...