tajmahal sangeet som कामरेड संगीत सोम ताजमहल

सुनो कामरेड ! मूर्ख संगीत सोम नहीं तुम हो ! ताजमहल को अब किसी प्रचार की जरूरत नहीं है

ताजमहल पर तुझे बड़ी टीस होती है कामरेड…! आज संगीत सोम का सब कुछ हो गया । एक भी करम बाक़ी न रहा । न लेखा न जोखा । संगीत सोम जैसे दंगाई ! भाजपाई ! ने ये जो कह दिया कि वही ताजमहल जिसमें बादशाह ने अपने बाप को कैद कर के रखा ! […]

man ki baat open letter to pm narendra modi , bihar मन की बात नरेन्द्र मोदी आनंद कुमार

आदरणीय प्रधानमंत्री महोदय ,इस बिहारी के “मन की बात” भी सुन लीजिये!

आदरणीय प्रधानमंत्री महोदय, मैं एक डरा सहमा सा बिहारी, सहमते सहमते ये पत्र लिखने की हिम्मत जुटा पा रहा हूँ। मैं एक ऐसे शहर में रहता हूँ, जहाँ शराब पीने पर उतनी ही सजा है जितनी कि किसी के क़त्ल की कोशिश पर होती है। आशा है आप समझ पायेंगे कि “टके सेर भाजी, टके […]

क्या आपको बीएचयू के आन्दोलन से “सुपारी आंदोलन” की बू नही आती ?

50 से 90 के बीच एक अंग्रेजी उपन्यासकार हुए हैं ,  Irwing Wallace . उन्होंने एक उपन्यास लिखा था – The Almighty …….. Almighty मने सर्वशक्तिमान …… प्रिंट मीडिया की कहानी थी । एक मीडिया टायकून अपने मीडिया साम्राज्य को कायम रखने के लिए और हमेशा सबसे पहले Breaking News देने के लिए समाचार खुद […]

बंगाल दंगे , bengal riots

बंगाल में उन्हें “सिविल राइट्स” नहीं अपना एक “इस्‍लामिक स्‍टेट” चाहिए

बशीरहाट तो बस झाँकी है बंगाल में जो हो रहा है उस पर किसको अचरज है ? केवल दो तरह के लोगों को : 1) वे जो इतिहास से अनजान हैं। 2) वे जो ख़ुशफ़हमी के शिकार नादान हैं। और बंगाल में जो हो रहा है उस पर कौन बात करने से कतरा रहा है […]

kahsmir separitist terorist अलगाववादी कश्मीर

कश्मीर एक राजनीतिक नहीं “इस्लामिक” समस्या है

पाकिस्तान की जीत के बाद कश्मीर में ईद मनाई गई. क्यों?  क्या कश्मीर पाकिस्तान है?  नहीं, कश्मीर तो हिंदुस्तान है.  फिर? जवाब बहुत सरल है : क्योंकि कश्मीर “मुसलमान” है. जेएनयू वाले कश्मीर को एक राजनीतिक समस्या बताकर स्वायत्तता और आज़ादी के नारे उछालते रहते हैं. लेकिन वे यह नहीं स्वीकार करते कि कश्मीर मूलतः […]

किसान समस्या खेत farmer problem

वोट के सौदागर अब किसान को भड़काकर देश को फूंक डालना चाहते हैं

आजादी के बाद जो सवाल कंटीले तारों की तरह कांग्रेस ने उलझाकर मुल्क की छाती पर पीढ़ियों के लिए लहूलुहान करने के लिए धर दिया है उनमे से एक आरक्षण है . ये इतना सेंसेटिव बना दिया गया है कि छेड़ो तो मुल्क में आग लग जाय . दूसरा भयानक विषय है किसानो की समस्या […]

दिल्ली का मुख्यमंत्री किसी डोम को बना दीजिये, वो किसी के बच्चो के मरने की कामना नहीं करता!

एक होता है डोम ::: …. जब कभी आप किसी बैकुण्ठ धाम या मणिकर्णिका पर अंतिम संस्कार में जाते हैं तो वहां का डोम कुछ मांग रखता है जिसके बदले वो सर में लाठी भोंकता है और मृत शरीर के पूरी तरह जल जाने का काम करता है … जितना आप में सामर्थ्य है उतना […]

muslim women , bjp , मुस्लिम महिलाए मुस्लमान तुफैल चतुर्वेदी , tufail chaturvedi

अब पता चला कि बुर्क़े में बंद बेज़बान भी ख़ामोश गुर्राहट रखती हैं !

ध्वस्त विरोधी शिविर, खंडित छत्र, अपने ही रक्त-स्वेद में सने धरती पर लोटते हुए महारथी, श्लथ-क्लांत कराहते हुए असंख्य पदातिक, भरतपुर लुट गयो रात मोरी अम्मा की रुदाली, भग्न रथ, दुम दबा कर भागती शत्रु सेना, लहराती विजय पताकाएँ, दमादम गूंजते हुए नगाड़े, बजती हुई विजय दुंदुभी, पाञ्चजन्य का गौरव-घोष, …… अभी कुछ ही समय […]

डीयू प्रोफ़ेसर ने किया शर्मसार , खुलेआम लगाए देशविरोधी नारे !

जिन वामपंथियो ने 9 फरवरी 2016 को जेनयू में देश विरोधी नारे लगाकर जेनयू और पूरे देश को बदनाम किया था उन्ही देश विरोधी वामपंथियो ने एक बार फिर दिल्ली विश्विद्यालय में कश्मीर मांगे आजादी ,बस्तर मांगे आजादी के नारे लगाकर डीयू को बदनाम करने की कोशिश की परन्तु दिल्ली विश्विद्यालय के आम छात्रो ने […]

कश्मीर की आवाज के नाम पर पाकिस्तान की असली रणनीति !

पाकिस्तान की असली रणनीति । पाकिस्तान से हुई पिछली लड़ाइयों के बारे में आप को पता होगा तो आप पाएंगे कि भारत के हर सीमावर्ती राज्य में, जहां युद्ध हुआ वहाँ स्थानिक जनता का बड़ा समर्थन था। कश्मीर में भी था । आज आप देखेंगे तो पाकिस्तान ने एक निर्धारित नीति के तहत इस समर्थन […]

तब वो फिर इस्लामी निजाम कायम करने की मांग रखेगे !

इतिहासकार इलियट और डोवसन अपनी किताब ” द हिस्ट्री ऑफ़ इंडिया ” में लिखते हैं कि भारतीय तटों पर मुस्लिमों से भरी पहली जहाज 630 AD में देखी गयी . भारत में इस नए धर्म को लाने वाले लोग अरबी व्यापारी थे .और वो जहाँ जहाँ। गए उन्होंने इस धर्म को फैलाते गए. कोंकण गुजरात […]

सर्जिकल स्ट्राइक

तो भारत की सर्जिकल स्ट्राइक सिर्फ पाकिस्तान के खिलाफ नहीं थी ? – पढ़िए पुष्कर अवस्थी का आलेख !

जब से भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक की खबर आयी है, तब से हर तरफ उल्हास(कुछ परमानेंट डैमेज सामान भी है) का मौहोल है और इसमें मैं भी शामिल हूँ। मैं सुबह से भारत की मीडिया और साथ में पाकिस्तान से निकल रही खबरों पर नज़र रक्खे हूँ और बहुत कुछ समझ में आरहा है। […]

तो क्या हिन्दुओं का धर्मान्तरण राष्ट्रांतरण साबित होगा ? पढ़िए “तुफैल चतुर्वेदी” का यह लेख !

हिन्दुओं का धर्मान्तरण राष्ट्रांतरण साबित होगा ! सर विद्याधर सूरज प्रसाद नायपॉल विश्व के महानतम लेखकों में से एक हैं। उन्हें लेखन के बुकर इत्यादि अन्य सारे बड़े पुरस्कारों के साथ नोबेल पुरस्कार भी मिला है। वो 1954 से लिख रहे हैं. एक पाकिस्तानी मुस्लिम महिला नादिरा जी से विवाहित हैं। वो भारत के नहीं […]

सिर्फ पाकिस्तान ही नहीं,विषबेल यानि स्लीपर सेल से भी सावधान!

अंग्रेज़ी की एक कहावत है fore warned fore armed यानी अग्रिम चेतावनी मिलना सशस्त्र होना है। हमारे सैनिकों का पाकिस्तान के क़ब्ज़े वाले कश्मीर में स्ट्राइक करना केवल प्रारम्भ है। इस ठुकाई से आतंकवादी विचारधारा की साख दांव पर है और वो इसे सरलता से नहीं डूबने देंगे। हमारे वार को अगर वो चुपचाप पचा […]

फिर पाकिस्तान को भारत नहीं बलोच मारेंगे – पहलवान की कलम से !

फिर पाकिस्तान को भारत नहीं बलोच मारेंगे गाँव में हमारे एक पडोसी के साथ हमारा एक विवाद था । विवाद का कारण था हम दोनों के घरों के बीच पड़ने वाला ज़मीन का एक टुकडा , जिसका कुल एरिया रहा होगा यही कोई 100 गज । 15 साल से ज़्यादा चला वो विवाद । अक्सर […]